Welcome to UPDHPHMB

परीक्षा से सम्बन्धित निर्देश

परीक्षा से सम्बन्धित निर्देश

  • परीक्षा केन्द्रः प्रवेश पत्र में परीक्षा केन्द्र का पूर्ण पता, परीक्षा तिथि व लिखित परीक्षा का समय अंकित होगा।

  • परीक्षा केन्द्र में निर्धारित समय से कम से कम 30 मिनट पूर्व आकर बैठने के कक्ष का विवरण पता कर लें।

  • प्रत्येक परीक्षा केन्द्र पर रोल नम्बर की सूची प्रदर्शित की जायेगी, उसमें अभ्यर्थियों के बैठने के कक्ष का विवरण होगा। सभी अभ्यर्थियों से अपेक्षित है कि वे अपने-अपने कक्ष में अपनी निर्धारित सीटों पर बैठ जायें। परीक्षा में कैलकुलेटर, लाॅग टेबल या किसी भी प्रकार का संचार उपकरण (सेल्युलर फोन, मोबाइल आदि) लाना वर्जित है।

  • परीक्षा प्रारम्भ होते ही आपस में किसी प्रकार की बातचीत या प्रश्नपत्र के विषय में चर्चा करना मना है।

  • किसी भी प्रकार की शंका का निवारण कक्ष निरीक्षक द्वारा किया जायेगा।

  • परीक्षा 2 घण्टों में सम्पन्न करायी जायेगी। वर्तमान परीक्षा निम्नलिखित पद्धति पर ली जायेगी, पर उसमें यदि शासन द्वारा कोई परिवर्तन किया गया तो नयी विधि लागू होगी।


  • लिखित परीक्षा प्रश्न पत्र में फिजिक्स, केमिस्ट्री, सामान्य हिन्दी, सामान्य ज्ञान एवं बायोलाजी अथवा गणित विषयों के इण्टरमीडिएट स्तर के प्रश्न होगें। कृपया ध्यान दें कि लिखित परीक्षा में निगेटिव मार्किंग है अर्थात किसी भी प्रश्न के गलत उत्तर होने पर ( अंक कुल प्राप्त अंकों से कटेंगे तथा प्रत्येक सही उत्तर पर एक अंक प्राप्त होगा। अतः प्रश्नों के उत्तर सोंच समझकर भरें। सलाह दी जाती है कि समय व प्रश्नों की संख्या को ध्यान में रखते हुए प्रश्न पत्र हल करें।

  • प्रश्न पत्र हिन्दी एवं अंग्रेजी दोनों माध्यम में दिया जायेगा। प्रत्येक प्रश्न के चार सभांवित हल (विकल्प) होगें अर्थात वस्तुनिष्ठ प्रकार के होगें। उत्तर पुस्तिका दो प्रतियों में दी जायेगी। (दूसरी प्रति कार्बनलेस पेपर पर है)

  • उत्तर पुस्तिका 5 (पाॅच) खण्डों में विभाजित होगी। पहला खण्ड फिजिक्स, दूसरा केमिस्ट्री, तीसरा हिन्दी, चैथा सामान्य ज्ञान एवं पाॅचवां गणित तथा बायोलाजी का होगा। गणित या बायोलाजी का एक ही खण्ड है। उत्तर पुस्तिका में गणित अथवा बायलोजी के विषय दिखाने वाले गोले को अवश्य काला कर दें। प्रत्येक खण्ड में 24 प्रश्नों के उत्तर भरे जा सकेगें। प्रथम, द्वितीय, तृतीय तथा चतुर्थ खण्ड के उत्तर क्रमांक सीरियल अंकों में होगा। अर्थात 01 से 96 तक होगें। पांचवे खण्ड में 97 से 120 तक के उत्तर क्रमाकं होंगे इसमें अपनी पसंद के विषय (गणित अथवा बायोजाली के उत्तर भरें) प्रश्न पत्र में गणित/बायोलाजी के प्रश्नों की संख्या 97 से 120 के ही है। उत्तर (ओ.एम.आर) में विषय से सम्बन्धित गोले गणित अथवा बायोलाजी अवश्य ही इंगित करना है।

  • प्रश्न पत्र हल करने के उपरान्त उत्तर पुस्तिका कक्ष निरीक्षक को सौंप देनी है।

  • उत्तर पुस्तिका पर निर्धारित सूचनाओं के अलावा कुछ और लिखना या निशान बनाना अथवा मोड़ना सख्त मना है।

अनुचित साधनों का प्रयोग

  • अभ्यर्थी द्वारा किसी भी तरह के अनुचित साधनों का प्रयोग किसी भी स्तर पर किया जाता है, अथवा गलत सूचना, प्रमाण पत्र आदि दिये जाते है तो उसे प्रवेश परीक्षा प्रक्रिया से तत्काल अलग कर दिया जायेगा।

परीक्षा प्रक्रिया

  • उत्तर पुस्तिका ओ.ए म. आर. (Optical Mark Reader) पैटर्न की होगी उसको भरने की प्रक्रिया आगे सम्बन्धित खण्ड में परीक्षा हेतु उदाहरण के रूप में दी गयी है। उत्तर पुस्तिका परीक्षा के समय द्वितीय प्रति (कार्बनलेस कापी) के साथ उपलब्ध करायी जायेगी, जिसे अभ्यर्थी को ले जाने की छूट होगी। उत्तर पुस्तिका की प्रथम प्रति प्रश्न-पत्र के साथ ही कक्ष निरीक्षक के पास जमा करनी होगी। यहाँ दी गयी ओ.एम.आर. उत्तर पुस्तिका नमूने की है तथा परीक्षा में दी जाने वाली ओ.एमआर. से भिन्न डिजाइन की हो सकती है।

  • प्रवेश परीक्षा में निगेटिव मार्किंग है। प्रत्येक गलत उत्तर पर 1/4 अंक कुल प्राप्त अंकों से कटेंगे तथा प्रत्येक सही उत्तर पर 1 अंक प्राप्त होगा।

  • उत्तर पुस्तिका (ओ.एम.आर.) को परीक्षा के समय कोरी (खाली) न सौंपें। कोरी उत्तर पुस्तिका को कक्ष निरीक्षक क्रास/काट देंगे।

  • प्रवेश परीक्षा के समय परीक्षा केन्द्र से उत्तर पुस्तिका अथवा प्रश्न-पत्र किसी भी दशा में ले जाने की भूल न करें। अन्यथा तत्काल नियमानुसार कानूनी कार्यवाही की जायेगी।

  • लिखित परीक्षा के समय कक्ष निरीक्षक द्वाराा एक सूची पर आपसे हस्ताक्षर कराये जायेंगे। उस सूची में आपका नाम, आरक्षण श्रेणी एवं इण्टरमीडिएट के कुल अंक आदि होंगे। उनको देखकर यदि उसमें व फार्म में भरे विवरण में कोई अन्तर हो तो उसको सही कर देने की सलाह दी जाती है। परिवर्तन कर कक्ष निरीक्षक को सूचित कर दें। कोई भी नई सूचनायें इस स्तर पर स्वीकार नहीं होंगी।